If you use Mi smartphone then this news is for you

October 23, 2017 in Gadget, News

In the telecom industry, jio and in mobile industries, Mi have emerged as a game changer who has made the person standing at the far end smart.

The latest case is linked to Chinese mobile manufacturer Xiaomi, who has achieved a lot of recent achievements. And now its Redmi Note 4 has become the best-selling smartphone in India in the third quarter. Mi has achieved this achievement when he sells his smartphone only on the e-commerce website.

Remember, the title of the biggest smartphone sales in India is also with Mi and its Redmi 4A has already become the best-selling smartphone in India this year.

Xiaomi has sold 292 times more mobile sales than last year and it has become India’s second largest company after Samsung. If this continues, Xaomi will soon become India’s number one company.

KBC 9: Sonam Wangchuk, the real life Phunsukh Wangdu of 3 Idiots, shares his inspiring story on the show

October 17, 2017 in Inspiration, News


In Friday’s episode, host introduced Sonam Wangchuk as a man with many missions. ‘s film 3 Idiots was inspired by this engineer-turned-innovator and education reformist. Sonam founded Students’ Educational and Cultural Movement of Ladakh (SECMOL), which is a campaign to improve the flawed education system of the country. He feels that the there is a lot of change required in our country’s education policy.
He said that the condition of a lot of government schools are worse than Sub-Saharan African schools and if it persists then rather than progress, we will witness more of riots and social unrest. Sonam, who was also instrumental in launching Operation New Hope brought reforms in the present education system by making the books more contextual.
Since he has started working in government schools in Ladakh, the percentage of passing students in class 10 has increased from 5 per cent in 2000 to 55 per cent in 2010 and reached an astonishing 75 per cent in 2015.
Sonam also talked about his school SECMOL, where students who’ve failed are given preference. These students learn through hands-on practical experience and also run the school by forming a small government that changes every two months. The whole school runs on solar energy. He encourages his students to be job-makers rather than job-seekers.
Sonam was accompanied by his former student Tsewang Rigzin, who is now a journalist. The teacher-student duo went on to win a whopping amount of Rs 50 lakh, which Sonam would like to invest in establishing Himalayan Institute of Alternatives, which will a university that provides more of hands-on and practical training to the youth. HIAL would mostly deal with issues faced by mountain people. Sonam, has been collecting money for the proposed university through crowd-funding and will the amount that he won on KBC will also be invested in the same.
Sonam was born in small village Uleytokpo, near Alchi in the Leh that consisted of only five families. He didn’t attend school till he was nine years old. He told that he was lucky because in those nine years, he got to learn a lot about the world from his mother in his native language. He feels that nowadays people are so burdened by languages like English and Urdu that they’ve missed out on learning in their mother tongue, which is very essential. Sonam, who knows nine languages including his mother tongue Ladakhi was quite a sport when he was asked to say Amitabh’s famous dialogue rishtey mein toh hum tumhare baap lagte hai from Shahenshah in Ladakhi and Punjabi.
Sonam also talked about his project Ice Stupa, which basically are water reservoirs. These ice stupas store water during the winter season in form of ice and provide water during the spring for irrigation and other purposes. One ice stupa can store as much as 3 million litres of water. He wanted the reservoirs to connect to people, due to which he named them ice stupa, as it is a mix of technique and tradition.

Have You Seen the Face of Real Bigg Boss? You will Be shocked to Know about Real Bigg Boss

October 17, 2017 in Entertainment, News

Bigg Boss a famous reality show of Indian Television. Different contestants live in a big house for some time. Their behavior with each other become the center of attraction of this show. Most of the controversies between the contestants are the main reason to watch Bigg Boss.
The House of Bigg Boss is look like a 5 star hotel where contestants live luxurious life. Another reason of success of this show is host Salman Khan. His style and beautiful way host this show is unique and liked by the people.
First thing comes in mind while watching Bigg Boss is the strong voice in the show which gives instructions to the contestants. Have you ever think who’s voice is this? This solid voice control every contestant in the show.
Everybody like this voice of Bigg Boss. You hear Bigg Boss instructions on the show have you seen the person behind the voice? Every year same voice for instructions and everybody follow it.
Meet the man behind the voice his name is Atul Kapoor. He is an Actor and Voice Actor who has given his voice in many TV Programs. He had started his career in 2003 but he started working with Sony Television in 2006. He mostly work to dub English Movies in Hindi.
He also work with Discovery channel and has given his voice to many famous programs of Discovery Channel.

Instagram: Here’s How to Automatically Share Your Instagram Story to Your Facebook Story

October 16, 2017 in Technology

Instagram recently introduced the ability for users to share their Instagram Stories to their Facebook Stories. By default, Instagram users must manually activate this cross-posting for each individual Story post. However, the Instagram application also allows users to turn on a feature that causes the app to automatically share every Instagram Story post to their Facebook Story. Our guide will show you how to activate this feature.

Note: These screenshots were captured in the Instagram app on iOS.

Step 1: Tap your profile picture in the bottom-right corner of the screen.

Step 2: Tap the gear icon near the top-right corner of the screen.

Step 3: Under “Account,” tap “Story Settings.”

Malaika Arora just gave the world a peplum-saree and we can’t keep calm

October 13, 2017 in Fashion

Just when you begin to think that you’ve seen the best of fashion, Malaika Arora decides that you haven’t and shows up in experimental attires that are bound to make your heart flutter. Today is one such day, and we’re not even trying to move over the upcycled saree Malaika Arora just wore.
The year 2017 will very well be remembered for its fascinating and mind-boggling fashion experiments, especially the ones involving the lovely traditional, Indian saree. From loud metallic sarees to sublime fringe sarees, the infusion and blend of elements into the nine yard knew no bounds. While some of these experiments were simply heart-warming, others broke our hearts. Malaika Arora, however, has added another number to the list of droolworthy upcycled sarees, we can’t really wait to lay our hands on.
The gorgeous diva draped an Amit Aggarwal hybrid-saree in the hues of maroon and brown, without a petticoat. No kidding. Draping it like a dhoti, she teamed the geometric-printed garment with a brown blouse boasting of a peplum.

It was really interesting to see her keeping it utterly ethnic with her dhoti-like styling while adding a western touch with a peplum-blouse that looked just so trendy. The blouse added an element of elegance with its vintage-y Queen Anne neckline that contrasted beautifully with the trendy peplum.
Adding a pop of metal with her rose-gold pumps, Malaika finished the look without any accessories and a basic low-pony.
With rose-hued makeup and classy-yet-casual attire, Malaika set some really high festive-dressing standards for us.

10 साल बाद सलमान खान ने खोल दी बॉबी देओल की किस्मत

October 12, 2017 in Entertainment, News

लंबे समय बाद बॉबी देओल ने फिल्म ‘पोस्टर ब्वॉयज’ से वापसी की थी। श्रेयस तलपड़े की इस फिल्म में बॉबी ने अपने बड़े भाई सनी देओल के साथ काम किया। ये एक कॉमेडी फिल्म थी। लेकिन बॉक्स ऑफिस पर ये फिल्म कुछ कमाल नहीं कर पाई।

बॉबी को उम्मीद थी कि इस फिल्म के बाद उनके करियर में उछाल आएगा। आपको बता दें कि अब उनकी ये उम्मीद पूरी होती नजर आ रही है। बॉबी देओल को एक बहुत बड़े बैनर की बड़ी फिल्म ऑफर हुई है।
कमाल की बात ये है कि ये फिल्म खुद सलमान खान ने उन्हें ऑफर की है। सलमान ने बॉबी को ‌’रेस 3′ के लिए साइन किया है। रेस और रेस 2 का बजट करीब 220 करोड़ रुपए था। इसलिए अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस फिल्म का बजट 300 करोड़ के करीब होगा। बॉबी के लिए इतनी बड़े बजट की फिल्म में काम करना हैरानी की बात है।
इस बात का खुलासा फिल्म के प्रोड्यूसर रमेश तौरानी ने किया है। रमेश तौरानी ने कहा, ‘मैं पहले भी बॉबी के साथ सोल्जर और नकाब फिल्म में काम कर चुका हूं। उनके साथ मेरा एक्सपीरियंस काफी अच्छा रहा है। वो बहुत प्रोफेशनल हैं और अपना काम अच्छे से करते हैं।’
तौरानी ने ये भी बताया कि फिल्म में बॉबी एक ऐसा रोल प्ले करेंगे जैसा उन्होंने पहले कभी नहीं किया। बॉबी को ये फिल्म मिलने के साथ उनकी लॉटरी लग गई है। लंबे समय से वो ऐसी बड़ी फिल्म का इंतजार कर रहे थे। फिल्में ना मिलने के कारण वो डिप्रेशन में भी चले गए थे। बता दें कि बॉबी पिछले 10 साल से एक हिट के तरस रहे थे। बड़े बजट की फिल्म के उन्हें मोटी फीस भी मिलेगी।

फिल्म में सभी कैरेक्टर ग्रे शेड में नजर आएंगे। सलमान खान, जैकलीन फर्नांडीस, सिद्धार्थ मल्होत्रा, आदित्य रॉय कपूर के बाद अब बॉबी भी फिल्म की कास्ट में शामिल हो गए हैं। इससे पहले अमिताभ बच्चन को भी फिल्म ऑफर की गई थी।

अमिताभ ने सलमान की इस फिल्म में काम करने से मना कर दिया। बिग बी के पास अभी इतनी फिल्में हैं कि उनके पास और कोई फिल्म करने का समय नहीं है। बिग बी की अपकमिंग फिल्‍म ‘झुंड’ की शूटिंग ‘रेस 3’ की शूटिंग के समय ही शुरू होगी।

आरुषि-हेमराज हत्याकांड: तलवार दंपत्ति निर्दोष करार, जामनत भी मिली

October 12, 2017 in News, Recommend

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बहुचर्चित आरुषि और हेमराज मर्डर केस में सीबीआई अदालत के उम्रकैद के फैसले के खिलाफ राजेश तलवार और नुपुर तलवार की अपील पर गुरुवार को अपना फैसला सुनाया। कोर्ट ने तलवार दंपत्ति की निर्दोष माना है और उनको जामनत दे दी है।
गाजियाबाद की स्पेशल कोर्ट ने तलवार दंपति को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। इस फैसले के खिलाफ इस दंपति ने हाईकोर्ट में अपील की थी।

क्या है मामला ?
– 16 मई 2008 को दिल्ली से सटे नोएडा के जवलायु विहार स्थित घर में 14 साल की आरुषि का शव मिला, जबकि 17 मई को नौकर हेमराज (45) की डेड बॉडी छत पर मिली थी। आरूषि का का गलता रेता गया था। 2008 के आरुषि-हेमराज हत्याकांड में अदालत आरुषि के माता-पिता, नूपुर और राजेश तलवार को दोषी मान करार दिया। उस वक्त की उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने मामले की जांच सीबीआई को सौंपी थी।
अभी कहां सजा काट रहे हैं तलवार दंपति
– नूपुर और राजेश तलवार गाजियाबाद की डासना जेल में अपनी उम्रकैद की सजा काट रहे हैं।
पहले फैसला सुरक्षित रखा था हाईकोर्ट ने
– सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने 6 नवम्बर 2013 को नूपुर और राजेश तलवार को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। दंपति ने इस फैसले को इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी
थी। जस्टिस बीके नारायण और जस्टिस एके मिश्रा ने इस साल 7 सितंबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।
– सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में सुनवाई 18 महीने तक चली थी।
कौन हैं तलवार दंपति
– तलवार दंपति दिल्ली-एनसीआर के जाने माने डेंटिस्ट रहे। डॉ. राजेश पंजाबी परिवार से हैं और नुपुर महाराष्ट्रियन फैमिली से हैं। नुपुर एयरफोर्स के अफसर की बेटी हैं
और डॉ. राजेश हार्ट स्पेशिलिस्ट के बेटे हैं। आरुषि का जन्म 1994 में हुआ था।
CBI की दो टीम ने जांच की; एक ने क्लीन चिट दी, दूसरी ने तलवार दंपति को सस्पेक्ट माना
– इस मामले की जांच सबसे पहले यूपी पुलिस ने शुरू की थी। शुरुआती जांच में पुलिस ने तलवार दंपति को शक के घेरे में लिया था। बाद में यह जांच सीबीआई को सौंपी गई।
– इस केस की जांच 31 मई 2008 को उस वक्त के सीबीआई ज्वाइंट डायरेक्टर के हाथ में आई। उन्होंने तलवार दंपति को क्लीन चिट दी और तीन नौकरों को सस्पेक्ट माना।
– इसके बाद सितंबर 2009 में फिर से सीबीआई की दूसरी टीम ने जांच शुरू की। इस बार सीबीआई के अफसर एजीएल कौर ने जांच शुरू की। उन्होंने तलवार दंपति को प्राइम सस्पेक्ट माना।
आरुषि-हेमराज कांड: कब क्या हुआ ?
– 16 मई, 2008 : आरुषि तलवार की बॉडी उनके घर में मिली।
– 17 मई, 2008 : नेपाल के रहने वाले नौकर हेमराज की लाश छत पर मिली, उसी पर आरुषि की हत्या का आरोप राजेश तलवार ने लगाया था।
– 18 मई 2008: जांच में यूपी एसटीएफ को भी लगाया गया। पुलिस ने कहा कि दोनों मर्डर बेहद सफाई से किए गए। साथ ही पुलिस ने माना की मर्डर में परिवार से जुड़े
किसी शख्स का हाथ है।
– 19 मई, 2008: तलवार परिवार के पूर्व घरेलू नौकर विष्णु शर्मा पर भी पुलिस ने शक जाहिर किया।
– 21 मई, 2008: यूपी पुलिस के साथ ही दिल्ली पुलिस भी मर्डर की जांच में शामिल हुई।
– 22 मई, 2008: आरुषि की हत्या ऑनर किलिंग होने का शक पुलिस ने जाहिर किया। इस पहलू से भी जांच शुरु की गई। पुलिस ने आरुषि के लगातार संपर्क में रहे
एक नजदीकी दोस्त से भी पूछताछ की। इस दोस्त से आरुषि ने 45 दिनों में 688 बार फोन पर बात की थी।
– 23 मई, 2008 : पुलिस ने डॉ. राजेश तलवार को मर्डर के आरोप में अरेस्ट किया।
– 29 मई, 2008: जांच सीबीआई के हवाले।
– 01 जून, 2008 : सीबीआई ने जांच शुरू की।
– 03 जून, 2008 : कम्पाउंडर कृष्णा को पूछताछ के लिए सीबीआई ने हिरासत में लिया।
– 27 जून, 2008 : नौकर राजकुमार को अरेस्ट किया गया।
– 12 जुलाई, 2008 : नौकर विजय मंडल अरेस्ट डॉ. तलवार को जमानत मिली।
– 29 दिसंबर 2010: सीबीआई ने क्लोजर रिपोर्ट लगाई। गाजियाबाद कोर्ट ने नौकरों को क्लीन चिट दी लेकिन पेरेंट्स के रोल पर सवाल उठाए।
– 09 फरवरी 2011: मामले में तलवार दंपति बने आरोपी।
– 21 फरवरी 2011: दंपति ने इलाहाबाद हाईकोर्ट से अपील की। हाईकोर्ट ने अपील खारिज कर दी और ट्रायल कोर्ट इनके खिलाफ सुनवाई शुरू करने के आदेश दिए।
– 19 मार्च 2011: सुप्रीम कोर्ट गए। यहां भी राहत नहीं मिली।
– 11 जून, 2012: सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई। इस मामले की सुनवाई जस्टिस एस लाल ने की।
– 26 नवम्बर 2013 : नूपुर और राजेश तलवार को उम्रकैद की सजा। जस्टिस एस लाल ने 208 पेज का जजमेंट सुनाया था।

‘… सुना है कि तू बेवफ़ा हो गया’, जानिए अमिताभ की ज़िंदगी में क्यों अहम हैं ये 5 सितारे

October 12, 2017 in Entertainment, News

मुंबई। बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन के बारे में यूं तो अनगिनत कहानियां सुनने को मिलती हैं, लेकिन कुछ कहानियां ऐसी हैं जो वक़्त के साथ फीकी नहीं पड़तीं। इनमें शामिल हैं अमिताभ बच्चन की उनके साथी कलाकारों के साथ ‘दुश्मनी’ क़िस्से। करियर के विभिन्न पड़ावों पर अमिताभ के साथ किना ना किसी कलाकार के साथ खट्टी-मीठी रिलेशनशिप रही है।
इन सितारों के ज़िक्र के बिना अमिताभ बच्चन के करियर की दास्तां पूरी नहीं होगी। पर्दे पर बिग बी की इनके साथ जोड़ी को दर्शकों ने जमकर पसंद किया, मगर रियल लाइफ़ में कहानी अलग थी। अमिताभ के 75वें जन्मदिन पर इन सितारों के साथ उनकी समीकरण इस रिपोर्ट में…
अमिताभ बच्चन-शत्रुघ्न सिन्हा:
अस्सी के दशक में अमिताभ बच्चन और शत्रुघ्न सिन्हा बॉलीवुड के टॉप एक्टर्स में शामिल हो चुके थे। दोनों ने ‘काला पत्थर’, ‘दोस्ताना’ और ‘शान’ जैसी सुपर हिट फ़िल्मों में साथ काम किया। इन दोनों की पर्दे पर जोड़ी जितनी मशहूर हुई, पर्दे के पीछे उतनी ही ख़बरों में रहती थी इनकी दुश्मनी। एक इंटरव्यू में शत्रु ने कहा भी था- ”जवानी थी। जोश था। कुछ ईगो इश्यूज़ थे।”

दोनों कई सालों तक एक-दूसरे से दूर रहे, लेकिन 2014 में दुश्मनी की ये दीवार गिर गई, जब दिवाली पर इन दो वेटरन एक्टर्स का भरत-मिलाप हुआ। बाद में अमिताभ और शॉटगन टीवी शो ‘यारों की बारात’ में भी साथ देखे ।
अमिताभ बच्चन- विनोद खन्ना:

सत्तर और अस्सी के दशक में विनोद खन्ना दूसरे ऐसे एक्टर हैं, जिन्होंने अमिताभ के साथ पर्दे पर कभी उनके दोस्त तो कभी भाई का क़िरदार निभाया। ‘अमर अकबर एंथनी’, ‘परवरिश’, ‘मुक़द्दर का सिकंदर’ और ‘हेराफेरी’ जैसी फ़िल्मों में अमिताभ और विनोद की जोड़ी को ख़ूब पसंद किया गया, मगर रियल लाइफ़ में इन दोनों को उस दौर का सबसे बड़ा राइवल माना जाता है। हालांकि विनोद खन्ना ने एक इंटरव्यू में कहा कि वो कांप्टीटर थे, राइवल्स नहीं। विनोद खन्ना का इसी साल अप्रैल में निधन हो गया।
अमिताभ बच्चन- राजेश खन्ना:

राजेश खन्ना हिंदी सिनेमा के पहले सुपर स्टार माने जाते हैं और एक वक़्त में वो अमिताभ से भी बड़े स्टार थे। अगर ये कहा जाए तो ग़लत नहीं होगा कि राजेश खन्ना के स्टारडम को फीका करने में अमिताभ बच्चन के स्टारडम का बहुत बड़ा हाथ है। ‘आनंद’ और ‘नमकहराम’ जैसी फ़िल्मों में दोनों ने शानदार काम किया। ‘आनंद’ के क्लामेक्स में राजेश खन्ना के साथ उनका आइकॉनिक सीन टाइमलेस ब्यूटी है। मगर जैसे-जैसे अमिताभ को स्टारडम मिलता गया, राजेश खन्ना से उनके रिश्ते ख़राब होते गए। कहा जाता था कि बिग बी की शोहरत ने काका को इंसिक्योर कर दिया था।
अमिताभ बच्चन-रणधीर कपूर:

रणधीर कपूर ने ‘क़स्मे-वादे’ और ‘पुकार’ जैसी फ़िल्मों में अमिताभ बच्चन के साथ स्क्रीन स्पेस शेयर किया था। कपूर खानदान के साथ अमिताभ के रिश्ते अच्छे रहे थे, लेकिन रणधीर की बेटी करिश्मा कपूर की अभिषेक बच्चन के साथ सगाई टूटने के बाद दोनों के बीत रिश्तों में तल्ख़ी आ गई थी, जिसके बाद अभिषेक ने करीना कपूर के साथ कई फ़िल्में ठुकरा दी थीं। हालांकि दोनों ने रिफ़्यूजी से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। 2009 में दोनों फैमिलीज़ के रिश्ते करण जौहर की एक पार्टी में सामान्य हुए।
अमिताभ बच्चन-शाह रूख़ ख़ान:

अमिताभ बच्चन और शाह रूख़ ख़ान ने ‘कभी खुशी कभी ग़म’, ‘मोहब्बतें’ और ‘वीर-ज़ारा’ जैसी फ़िल्मों में साथ काम किया है, लेकिन इन दो सुपर स्टारों के बीच राइवलरी भी बॉलीवुड में गॉसिप कॉल्म्स का हिस्सा रही है। अमिताभ ने क्विज़ शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ से छोटे पर्दे की दुनिया में क़दम रखा था। दो सीज़न तो बिग बी ने होस्ट किए, लेकिन तीसरे सीज़न में मेकर्स ने शाह रूख़ ख़ान को ले लिया। शो को जब ख़राब रेटिंग्स मिलीं, तो अमिताभ की वापसी हुई। इस दौर में दोनों के बीच मनमुटाव की ख़बरें आई थीं। हालांकि शाह रूख़ बिग बी के साथ किसी भी तरह की राइवलरी से इंकार करते हैं और दोनों के बीच रिश्तों की मधुरता विभिन्न अवसरों पर देखने को मिलती रही है।

Bigg Boss 11: ये कंटेस्टेंट बन गया है घर का पहला कैप्टन

October 12, 2017 in Entertainment, News

मशहूर रिएलिटी शो ‘बिग बॉस’ सीजन 11 के पहले कैप्टन का इंतजार कर रहे फैंस के लिए खुशखबरी है. बता दें कि सीजन 11 में घर के पहले कैप्टन के नाम की घोषणा हो गई है.

बिग बॉस सीजन 11 के पहले कैप्टन बनने की रेस लग्जरी टास्क के दौरान ही शुरू हो गई थी. टास्क में राजा बने हितेन को अर्शी और शिल्पा में से अच्छी रानी को चुनना था, लेकिन वह गलत रानी को चुन लेते हैं. जिसके बाद अर्शी की टीम यह टास्क जीत जाती है.

टास्क जीतने के बाद अर्शी की टीम के मेंबर्स पुनीश, ज्योति, विकास, लव, हिना में से किसी एक को कैप्टन बनने का मौका मिलता है. कैप्टन बनने के लिए पहले मुकाबला पुनीश और हिना के बीच होना था, लेकिन बिग बॉस इसमें एक ट्विस्ट ले आते हैं.

बिग बॉस पड़ोसियों को पुनीश और हिना में से किसी एक कंटेस्टेंट्स को बदलने की पावर देते हैं. पड़ोसी हिना की जगह विकास को कैप्टनशिप टास्क के लिए बदलने का फैसला करते हैं.

बिग बॉस से जुड़ी हुई खबरें देने वाले ट्विटर हैंडल द खबरी से ट्वीट किया गया है कि विकास गुप्ता सीजन 11 के पहले कैप्टन बन गए हैं.

यूनिवर्सिटी टीचरों को मोदी सरकार का दिवाली गिफ्ट, मिलेगा 7वें वेतन आयोग का लाभ, जानें… कितनी बढ़ेगी सैलरी

October 12, 2017 in Edu & Job, News

नयी दिल्ली : केंद्र की मोदी सरकार ने विश्वविद्यालयों के शिक्षकों, अकादमिक स्टाफ को दिवाली का बड़ा गिफ्ट दिया है. सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने के बाद केंद्रीय कैबिनेट ने आज उच्च शिक्षण संस्थानों के करीब आठ लाख शिक्षकों और अकादमिक स्टाफ के लिए संशोधित वेतनमानों को मंजूरी प्रदान कर दी. इस फैसले से यूजीसी तथा केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा वित्तपोषित कालेजों तथा 106 विश्वविद्यालयों के 7.58 लाख शिक्षकों तथा समकक्ष अकादमिक स्टाफ को फायदा होगा.
इसके अलावा इस फैसले से राज्य सरकारों से सहायता प्राप्त 329 विश्वविद्यालयों और 12,912 कॉलेजों को भी फायदा होगा. बैठक के बाद एक बयान में कहा गया है कि संशोधित वेतन पैकेज का फायदा आइआइटी, आइआइएससी, आइआइएम, आइआइआइटी जैसे 119 संस्थानों के शिक्षकों को भी मिलेगा.
मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने संवाददाताओं को बताया कि अनुमोदित वेतनमान पहली जनवरी 2016 से लागू होंगे. इस फैसले से सालाना केंद्रीय वित्तीय देनदारी करीब 9800 करोड़ रुपये होगी. बयान के अनुसार इस संशोधन से शिक्षकों के वेतन में 10,400 रुपये से लेकर 49,800 रुपये तक की वृद्धि होगी. शिक्षकों के वेतन में अलग-अलग श्रेणियों में 22 प्रतिशत से लेकर 28 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी होगी.
मालूम हो कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों को वर्ष 2016 से ही 7वें वेतन आयोग का लाभ मिल रहा है. वहीं यूनिवर्सिटी के शिक्षकों को अभी तक 7वें वेतन आयोग का लाभ नहीं मिल रहा था.

MissDhinchak

Profile picture of MissDhinchak

@missdhinchak

active 22 minutes ago
    Gossip Queen